मृत्यु से मुलाकात

निकल पड़ा मैं घर से किसी बात पे,क्रोधित था मन उस दिन दुनिया के हालात पे,उचटा हुआ मन लिए पहुंचा एक सूने मैदान में,सहसा सन्नाटे से ठिठका, हुआ थोड़ा हैरान मैं । दूर दूर तक न कोई मनुष्य नज़र आता था,न ही आकाश से कोई पंछी चहचहाता था,रोशनी भी धीरे धीरे ढल रही थी,धूल समेटे… Continue reading मृत्यु से मुलाकात

Fearless

For those who are sad, in despair, giving up or just disappointed and discouraged. This will help and give you strength, you might be able to relate at least a few lines to your own life. When crossroads came and I had to, I always chose the hardest of them all, they bent me in those… Continue reading Fearless